मुख्य समाचार

6/recent/ticker-posts

कै. रामदास तुकाराम तुपे प्रतिष्ठान द्वारा निःशुल्क नेत्र परीक्षण एवं नेत्र शल्य चिकित्सा शिविर का किया गया आयोजन

नेत्र परीक्षण और शल्य चिकित्सा शिविर में महिला को चश्मा प्रदान करते हुए विधायक चेतन तुपे पाटिल, साथ में महाराष्ट्र प्रदेश के उपाध्यक्ष सुरेश घुले, शिविर के आयोजक राहुल आबा तुपे, अमर तुपे व अन्य उक्त चित्र में दिखाई दे रहे हैं।

हड़पसर, मई (हड़पसर एक्सप्रेस न्यूज़ नेटवर्क)

तनावपूर्ण जीवन में नेत्र विकार बढ़ रहे हैं, यह अंधापन बढ़ाता है, इस पर काबू पाने के लिए राहुल तुपे और अमर तुपे ने नेत्र परीक्षण और मुफ्त शल्य चिकित्सा शिविर का आयोजन किया। यह पहल सराहनीय है। युवाओं ने समाज हित के लिए ऐसी गतिविधियों के माध्यम से आगे आने की अपील विधायक चेतन तुपे पाटिल ने की। 
कै. रामदास तुकाराम तुपे प्रतिष्ठान की ओर से साडेसतरानली की साठेबस्ती में निःशुल्क नेत्र परीक्षण एवं नेत्र शल्य चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया था, जिसका उद्घाटन विधायक चेतन तुपे के शुभ हाथों किया गया, तब वे बोल रहे थे। इस अवसर पर यहां राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी महाराष्ट्र प्रदेश के उपाध्यक्ष सुरेश घुले, राकांपा हड़पसर विधानसभा चुनाव क्षेत्र के अध्यक्ष डॉ. शंतनु जगदाले, कार्याध्यक्ष संदीप बधे, पूर्व पंचायत समिति सदस्य जितीन कांबले, साधना सहकारी बैंक के संचालक बालासाहेब शंकर तुपे, रविंद्र   गोगावले, पूर्व उपसरपंच रुपेश तुपे, शिवाजी डोंबे, प्रदीप गोगावले, बंडूशेठ तुपे, संजय शिंदे, प्रशांत पवार, अभिजीत बोराटे, प्रशांत तुपे, प्रमोद तुपे, हनिफ पठाण, शिवाजी बधे, सहकार्य प्रतिष्ठान के किरण तुपे, सचिन बहिरट, आकाश आटोले आदि के साथ अन्य अतिथिगण प्रमुख रूप से उपस्थित थे। 
राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी महाराष्ट्र प्रदेश के उपाध्यक्ष सुरेश घुले ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि राहुल तुपे और अमर तुपे ने सामाजिक गतिविधियों से खुद को साबित किया है, उनके काम के लिए शुभकामनाएं।
माई फाउंडेशन के सभी चिकित्सा अधिकारी, डॉक्टर, कर्मचारियों ने उपस्थित नागरिकों की जांच की और मुफ्त चश्मा वितरित किये।
साडेसतरानली क्षेत्र के नागरिकों और महिलाओं के लिए नि:शुल्क नेत्र जांच शिविर का आयोजन किया गया था, जिसका 5000 से अधिक नागरिकों ने लाभ उठाया। 
आगे के उपचार के लिए भारती विद्यापीठ हॉस्पिटल में आंखों का ऑपरेशन किया  जाएगा। यह जानकारी शिविर के आयोजक राहुल आबा तुपे व अमर तुपे ने दी है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ