मुख्य समाचार

6/recent/ticker-posts

विश्वजननी महालक्ष्मी नवरात्र उत्सव ट्रस्ट द्वारा नवरात्रि उत्सव पर अनेक धार्मिक व सामाजिक कार्यक्रम

हड़पसर, अक्टूबर (हड़पसर एक्सप्रेस न्यूज़ नेटवर्क)
विश्वजननी महालक्ष्मी नवरात्र उत्सव ट्रस्ट के माध्यम से वर्ष 2018 से सिद्धिविनायक कालोनी, मांजरी बुद्रुक में नवरात्रि उत्सव बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। ट्रस्ट का इस साल पांचवां वर्ष है, ट्रस्ट के संस्थापक अध्यक्ष  राहुल सुरेश खलसे बहुत उत्साह के साथ नवरात्रि उत्सव का बखूबी आयोजन करते हैं। 
विश्वजननी महालक्ष्मी नवरात्र उत्सव ट्रस्ट के संस्थापक अध्यक्ष राहुल खलसे ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि मुख्य रूप से यह मंच विशेष रूप से महिलाओं के लिए स्थापित किया गया है। इसमें महिला वर्ग काफी हद तक शामिल है। गणेश भगवान महल्ले इस साल के नवरात्रि उत्सव के अध्यक्ष हैं। कोरोना की पृष्ठभूमि पर धार्मिक त्यौहारों को मनाने पर लगी पाबंदियों के कारण पिछले दो साल से नवरात्रि उत्सव नहीं हो सका। हालांकि इस साल सभी प्रतिबंध हटा दिए गए हैं, इसलिए ट्रस्ट की ओर से नवरात्रि उत्सव का आयोजन बेहद भव्य तरीके से किया गया है। घटस्थापना के दिन आण्णासाहेब मगर कॉलेज से महालक्ष्मी देवी की भव्य शोभायात्रा निकाली गई। इनमें आलंदी से वारकरी संप्रदाय का ताल मृदुंग पथक, पाषाण से अष्टविनायक ढोल पथक, हल्गी और संबल संगीत की टुकड़ी साथ ही मालवाडी के शिवचंद्र ब्रास बैंड के बैंड पथक शामिल हुए थे। इसके साथ ही बहुत ही धूमधाम से जुलूस निकाला गया। बहुत ही सुंदर और कलात्मक ढंग से सजाई गयी मंडप में देवी की सुंदर मूर्ति, साथ ही सात रंगों में सजाए अरस, रंगीन रोशनी इस पर्व की विशेषता है।
आगे उन्होंने कहा कि इस साल के नौ दिनों के दौरान महाराष्ट्र के महागायक रणजीत खंडागले का देवी के गीतों का कार्यक्रम, डांडिया और रास गरबा, संदेश चौधरी का होम मिनिस्टर, बाल कीर्तनकार ह.भ.प. गायत्री दीदी घोडके का भारुड कार्यक्रम, महाराष्ट्र की लोकधारा, कला परिवार हड़पसर की और से हिंदी व मराठी गीतों की महफिल, महिलाओं के लिए हल्दी-कुंकू व तुलसी पौधे वितरण, महिलाओं के हाथों से देवी की महाआरती व भोंडला, होम हवन, स्वास्थ्य जांच शिविर ऐसे धार्मिक व सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया है। साथ ही कोजागिरी पूर्णिमा के अवसर पर ट्रस्ट की ओर से महाप्रसाद का आयोजन किया गया है। सोमवार 10 अक्टूबर को देवी की भव्य विसर्जन जुलूस का आयोजन किया गया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ